newzzz

Loading...

Friday, March 5, 2010

ayu 's version of meera bai ke dohe!

written in class 8

१ कोई कह तो दे, जो हम न कह सके
वोह सुन तो लें, हम ही दीवाने हैं क्या
परवाने वोह नहीं!
२ दीवानगी न जानी, परवानगी न जानी,
यह जो भी है, बस है ज़िन्दगी हमारी!

३ तुम परदेसी बन के चले जाओगे ,
किसी और के हो जाओगे!
फिर क्या हमे याद फर्माओगे!
हमे तो लगता है , अपने रंग में रंग जाओगे!
हमे भूल जाओगे, हमे भूल जाओगे!

४ आज वादा करते हैं, हम न भूल पाएँगे
तुम्हारे हैं, और शायद तुम्हारे ही रह कर धुल में मिल जाएंगे
कतरे बन हवा में उद्द जाएँगे, और वोह कतरे भी तुम्हे याद फरमाएंगे!
वादा करते हैं, तुम्हारे तोह शायद हो न पाएंगे !
पर किसी और के होना पड़ा, तोह जेते जी मर जाएँगे!
फिर मैं रह जाएगा , हम तोह तुम में मिल जाएगा
वादा करते हैं- हर पल याद फरमाएंगे!
याद फरमाएंगे !

6 comments:

Anonymous said...

tapyLypemal

[url=http://healthplusrx.com/memory-problems]memory problems[/url]
Accoloump

Anonymous said...

gud job.......

Anonymous said...

$$$$GUD INFORMATION$$$$

Anonymous said...

I need a few more of this

Anonymous said...

superb i needed this for my project thanx for helping .

Anonymous said...

I need it for my project

Search with google ,if you can't find it here.. (google angel helps u)